खंड 22 संख्या 18 *प्रेत के दुश्मन भाग-1* (5 मई- 11 मई 1985)

खंड 22 संख्या 18 *प्रेत के दुश्मन भाग-1*



इस ब्लॉग के सभी प्यारे पाठकों को राजेश कुमार की ओर से नमस्कार ! काफी दिनों के बाद आप सबों से रूबरू होने का सौभाग्य प्राप्त हुआ, आज मैं आप सबों के मांग पर तीन अंकों में प्रकाशित वेताल का एक कॉमिक्स लेकर उपस्थित हूँ जिसे आप में से कुछ लोगों ने आज से लगभग 1 वर्ष पूर्व हमसे माँगा था | देर से इसे अपलोड करने के लिए क्षमा चाहूंगा | परन्तु आज उस मांग को पूरा करने का अवसर मुझे प्राप्त हुआ |और हाँ आज मुझे आपसे यहाँ कुछ मदद की आवश्यकता है, आप सब कृपया अपने-अपने हार्ड डिस्क में  देख कर इंद्रजाल कॉमिक्स हिंदी के वैसे अंको की सूचि बनाएं जिन्हे आप फिर से अपलोड करवाने या उन्हें Enhancement करवाने की अपेक्षा रखते हैं| क्यूंकि मेरे पास के इंद्रजाल हिंदी के सॉफ्ट कलेक्शन में काफी सारे वैसे अंक हैं जिसे किसी न किसी कारण फिर से अपलोड करने की आवश्यकता है, किसी में उसका कवर फटा है या कोई बहुत छोटे resolution में है | शायद आप में से किसी के पास उसके बेहतर कॉपी उपलब्ध हों | अतः आप अपने इंद्रजाल कॉमिक्स हिंदी के संग्रह में उन अंकों की सूचि उपलब्ध करवाएं जिसे फिर से enhance करके अपलोड किया जाये | फिर एक सप्ताह में उसको आपसी बातचीत के माध्यम से उसकी अंतिम सूचि तैयार किया जाये और फिर हम सब मिलकर इंद्रजाल कॉमिक्स हिंदी को HD Resolution में अपलोड करने का प्रयास शुरू किया जाये | इस काम को आपसी सहयोग के बिना पूरा नहीं किया जा सकता | तो फिर आज से ही इस काम में जुट जाया जाये, 8 जून से lockdown भी ख़त्म होने की शुरुआत हो रही है और हम सब भी अपने अपने दैनिक काम में सामन्य रूप से व्यस्त होने वाले है , यही कुछ दिन शेष रह गए है हम सब मिलकर सूचि बनाएं | कृपया यह भी लिखें की उसे किस कारण से फिर से अपलोड करना है |आप सबों से सहयोग की अपेक्षा में .......

प्रस्तुत है इंद्रजाल कॉमिक्स खंड22 संख्या18 प्रेत के दुश्मन भाग-1

Additional Information:

यह चित्रकथा दो कॉमिक्स ,वेताल-प्रेत के दुश्मन और रिप किर्बी -सुनहरा भूत का पहला भाग है|]

Language: हिंदी 
Number: V22 N18
Publishing Date: 
 5 मई- 11  मई 1985
Title: प्रेत के दुश्मन-1 + सुनहरा भूत-1
English Name in Indrajal Comics : Vigil of The Ghost I + 
                                                   The Mid-Sea Gold Rush I 
Hero: वेताल + रिप किर्बी
Script: ली फाक + जॉन प्रेन्टिस
Art: साय बैरी + जॉन प्रेन्टिस
Page: 32 (c2c)
Size : 72 mb
Publisher: Bennett Coleman and Co. Ltd. (Times Group)



Enhanced Reading                                  Raw Reading                  

हार्ड कॉपी,  स्कैन, संपादन और अपलोडिंग : राजेश कुमार         

0 comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.

 

Indrajal Online Copyright © 2007-2018